काल किसे कहते हैं | Kaal in Hindi | Tense in Hindi

प्रिय पाठक स्वागत है आपका the eNotes के एक नए आर्टिकल में, इस आर्टिकल में हम पढ़ेंगे की काल किसे कहते हैं? इसके साथ ही हम  Kaal in Hindi तथा Tense in Hindi देखेंगे और काल के भेद (Kaal ke bhed) पढेंगे। आगे बढ़ने से पहले आपको बता दें की अगर आप प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहें हैं तो इस ब्लॉग को बुकमार्क तथा सामान्य हिन्दी का यह किताब पढ़ें-Buy on Amazon

काल किसे कहते हैं। Kaal in Hindi. Tense in Hindi

क्रिया के जिस रूप से किसी कार्य के होने अथवा करने के समय का बोध होता है उसे काल कहते हैं। अर्थात व्याकरण में क्रिया के जिस रूप से कार्य होने के समय का पता चलता है उसे काल कहते हैं; जैसे-

  • सीता गाना गाती है।
  • अध्यापक जी पढ़ा रहे थे।
  • श्याम पुस्तक पढ़ेगा।

उपर्युक्त उदाहरण पढने से यह पता चल जा रहा है कि, कार्य कब होगा, अतः कह सकते हैं कि; क्रिया के जिस रूप से यह पता चल जाये कि कार्य कब होगा या कार्य हो गया है अथवा कार्य अभी हो रहा है तो इसे (Tense in Hindi) काल कहते हैं –

यह भी पढ़ेंसंज्ञा किसे कहते हैं?

काल के भेद। kaal ke bhed

क्रिया के आधार पर काल को तीन भेद- वर्तमान काल, भूतकाल और भविष्य काल में बाटा हैं।

वर्तमान काल-Present Tense in Hindi

परिभाषा: क्रिया के जिस रूप से कार्य के वर्तमान में अर्थात तुरंत चल रहे समय में होने का बोध हो उसे वर्तमान काल कहते हैं; जैसे-

  • विशाल जाता है।
  • विशाल जा रहा है।
  • विशाल जाता होगा।

उपर्युक्त वाक्यों में जाता है, जा रहा है, जाता होगा, से तुरंत हो रहे कार्यों का पता चलता है। अतः यहाँ वर्तमान काल है।

वर्तमान काल के तीन भेद होते हैं-

सामान्य वर्तमान काल –

क्रिया के जिस रूप से कार्य के वर्तमान समय में होने का सामान्यतः बोध होता है, ऐसी क्रियाओं को सामान्य वर्तमान काल कहते हैं; जैसे-

  • सीता गाना गाती है।
  • मोहन पत्र पढता है।
  • वह प्रतिदिन मंदिर जाता है।

अपूर्ण वर्तमान काल –

क्रिया के जिस रूप से यह पता चले की कार्य प्रारंभ होने के पश्चात ख़तम नहीं हुआ है अभी कार्य जारी है, तो वहाँ अपूर्ण वर्तमान काल होता है। ऐसी वाक्यों के अंत में रहा हूँ रहा है, रही है, रहे हैं आदि शब्द आते हैं; जैसे-

  • श्यामा खाना खा रही है।
  • मैं यूट्यूब पर विडियो देख रहा हूँ।
  • पवन घर जा रहा है।

उपर्युक्त उदाहरण से पता चल रहा है की, कार्य शुरू हो गया है और अभी चल रहा है, कार्य कहातम नहीं हुआ है। अतः यहाँ अपूर्ण वर्तमान काल है।

यह भी पढ़ें – विशेषण किसे कहते हैं?

संदिग्ध वर्तमान काल –

क्रिया के जिस रूप से यह पता चले की कार्य प्रारंभ तो हो गया है लेकिन जारी रहने में संदेह है, तो ऐसी क्रियाओं को संदिग्ध वर्तमान काल कहते हैं; जैसे-

  • वह बाज़ार जाता होगा।
  • गीता रामायण पढती होगी।
  • किरन खाना बनाती होगी।

उपर्युक्त उदाहरण से यह पता चलता है कि कार्य वर्तमान में तो चल रहा है किन्तु होने में संदेह है, अतः यहाँ संदिग्ध वर्तमान काल है।

Tense in Hindi

भूतकाल काल-Past Tense in Hindi

परिभाषा: क्रिया के जिस रूप से पता चले की काम बीते समय में पूरा हो गया है, तो उसे भूतकाल कहा जाता है। अर्थात जब किसी बीते समय की बात हो तो वहाँ भूतकाल होता है; जैसे-

  • राम ने रावण को मारा था।
  • हनुमान ने लंका पार की थी।
  • वह गाना गा रही थी।
  • उसके मामा जी आये हुए थे।

उपर्युक्त उदाहरण में वाक्यों की क्रियाओं के रूप से पता चल रहा है कि काम बीते समय में हुआ है। अतः यहाँ भूतकाल है।

भूतकाल के 6 भेद होते हैं-

1. सामान्य भूतकाल-

क्रिया के जिस रूप से यह पता चले कि कार्य बीते समय में सामान्य रूप से पूरा हो गया है तो उसे सामान्य भूतकाल ते; जैसे-

  • उसने पत्र लिखा।
  • श्यामू ने मिठाई खाई।
  • मैंने पुस्तक पढ़ी।

उपर्युक्त वाक्यों की क्रियाओं से पता चल रहा है कि काम बीते समय में बहुत पहले पूरा हो गया था। अतः यहाँ सामान्य भूतकाल है।

2. आसन्न भूतकाल-

क्रिया के जिस रूप से यह ज्ञात हो कि कार्य अभी-अभी समाप्त हुआ है, उसे आसन्न भूतकाल कहते हैं; जैसे-

  • विशाल सो गया।
  • सीता ने खाना खाया है।
  • बछड़े ने दूध पिया है।
  • वह आया है।

उपर्युक्त वाक्यों की क्रियाओं से पता चल रहा है कि काम के होने का समय बहुत निकट रहा है अर्थात् कार्य अभी-अभी समाप्त हुआ है। अतः यहाँ आसन्न भूतकाल है।

3. अपूर्ण भूतकाल-

क्रिया के जिस रूप से कार्य का भूतकाल में होना जाये लेकिन पूर्ण होने का बोध न हो, उसे अपूर्ण भूतकाल कहते हैं; जैसे-

  • अविनाश नाटक देख रहा था।
  • सिपाही चोर के पीछे दौड़ रहा था।
  • अध्यापक जी पढ़ा रहे थे।
  • माँ बच्चे को दूध पिला रही थी।

यह भी पढ़ें – वर्ण किसे कहते हैं?

4. पूर्ण भूतकाल-

क्रिया के जिस रूप से पता चले की काम बहुत पहले पूरा हो चूका था, उसे पूर्ण भूतकाल कहते है; जैसे-

  • उसने कविता लिखी थी।
  • केशव ने पत्र पढ़ लिया था।
  • गाड़ी रवाना हो चुकी थी।
  • गौरव जग गया था।
  • मैंने उसे वहाँ देखा था।

5. संदिग्ध भूतकाल-

क्रिया के जिस रूप से पता चले कि कार्य के भूतकाल में करने या होने में संदेह हो, उसे संदिग्ध भूतकाल कहते हैं: जैसे

  • अभय ने खाना खा लिया होगा।
  • उसने खाना खाया होगा।
  • पिता जी बाज़ार गए होंगे।
  • वे लोग आ चुके होंगे।
  • आशीष बाज़ार जा चूका होगा।

6. हेतु-हेतुमद्य भूतकाल-

क्रिया के जिस रूप से पता चले की कार्य के भूतकाल में होने या किए जाने में शर्त पाई जाए, उसे हेतु-हेतुमद् भूतकाल कहते हैं, जैसे-

  • वर्षा होती तो फसल ना सूखती।
  • चाचा जी आते तो मैं उनके साथ मेला देखने चला जाता।
  • यदि वह परिश्रम करता तो सफल हो जाता।

Kaal in Hindi

भविष्य काल-Future Tense in Hindi

परिभाषा: क्रिया के जिस रूप से किसी कार्य का आने वाले समय में होने का बोध हो उसे-उसे भविष्य काल कहते हैं; जैसे-

  • मैं खाना खाऊंगा।
  • वह बाज़ार जाएगा।
  • कल वर्षा नहीं होगी।
  • आज मैं घर नहीं जाऊंगा।

उपर्युक्त उदाहरण से यह बात स्पष्ट हो रही है कि कार्य अभी पूरा नहीं हुआ है, आने वाले समय में पूरा होगा। अतः इसे भविष्य काल कहते हैं।

भविष्य काल के 2 भेद होते हैं।

सामान्य भविष्यत्-

क्रिया के जिस रूप से कार्य सामान्य रूप से भविष्य काल में पूरा हो उसे सामान्य भविष्यत् काल कहते हैं; जैसे-

  • राम और श्याम विद्यालय जायेंगे।
  • श्याम पुस्तक पढ़ेगा।
  • तुम आज गीत गाओगे।

उपर्युक्त उदाहरण से यह स्पष्ट हो रहा है कि कार्य भविष्य काल में सामान्य रूप से पूरा होगा अतः यहाँ सामान्य भविष्यत्  काल है।

संभाव्य भविष्यत्-

क्रिया के जिस रूप से कार्य के संपन्न होने में संदेह की स्थिति हो अथवा कार्य होने की संभावना हो, तो उसे संभाव्य भविष्यत् काल कहते हैं; जैसे-

  • कदाचित् कल बारिश होगी।
  • आप मुझे क्षमा करें।
  • भगवान् उसे सद्बुद्धि दे।
  • शायद योगेश कल आये।

आपने क्या सिखा?

इस आर्टिकल में आपने पढ़ा कि काल किसे कहते हैं (Kaal in Hindi) , हमें उम्मीद है कि यह जानकारी आपके लिए आवश्य फायदेमंद रही होगी। अगर Tense in Hindi आपके लिए लाभदायक रही होगी तो इस लेख के बारे में आपने विचार कमेंट करें।

Disclaimer
यह वेबसाइट रिसर्च के बाद जानकारी उपलब्ध कराता है, इस बीच पोस्ट पब्लिश करने में अगर कोई पॉइंट छुट गया हो, स्पेल्लिंग मिस्टेक हो, या फिर आपको लगे की दी गयी जानकारी गलत है तो आप उसे कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएँ अथवा हमें [email protected] पर मेल करें।

Leave a Comment