फसल किसे कहते हैं? फसल की परिभाषा और इसके 3 प्रकार

नमस्कार दोस्तों theenotes.com पर आप सभी का बहुत-बहुत स्वागत है आज की इस लेख में हमें जानने वाले हैं कि फसल किसे कहते हैं और साथ ही हम फसलों के प्रकार जैसे- (खरीफ की फ़सल, रबी की फ़सल, जायद की फ़सल) आदि के बारे में जानेंगे –

फसल किसे कहते हैं

मानव के द्वारा अपने तथा दूसरो के लिये कृषि क्षेत्र में एक निश्चित अवसर एवं पूर्ण योजनाबद्ध तरीको द्वारा उगाये गये अनाज, चारा, फल अथवा फूल आदि के पौधों के समूह को फ़सल (crop in Hindi) कहा जाता है।

पूर्व काल से ही मानव अपने भोजन और खान-पान के लिए प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से फ़सल (fasal in Hindi) के उत्पादन पर ही निर्भर रहा है।

पूर्व काल से ही मानव जिन पेड़ पौधों को अपनी खाद्य आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए उत्पन्न करता है अथवा भोजन को प्राप्त करने के लिये प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से फसलों (crop in hindi) पर आश्रित रहा है। इस पर अगर आपसे कोई पूछे कि, फसल किसे कहते हैं? तो आप बता सकते हैं-

“पौधों एंव पेड़ो का वह समूह जो एक बड़े ज़मीन पर आर्थिक लाभ और भोजन की पूर्ति की दृष्टि से उगाया जाता है फ़सल (crop in Hindi) कहलाता है।”

फसल क्या है? Fasal kya hai?

मनुष्य अपने फायदे के लिए जिन पेड़ पौधों का उत्पादन एक योजना एंव क्रमबद्ध तरीके से करता है और खाए जाए आवश्यकताओं की पूर्ति करता है उन्हें फ़सल कहते है।

प्रारम्भ में मानव अपने अनुभव एवं समय के आधार पर स्वयं से उगी हुई वनस्पतियों एवं पेड़-पौधों से भोजन को प्राप्त करते थे। कालांतर युग में मानव अपने भोजन के लिये फसलों को पैदा कर कृषि (agriculture in Hindi) कार्य की शुरुआत हुई। इसके अलावा समय के साथ-साथ जनसंख्या में वृद्धि के कारण मनुष्य की भोजन सम्बन्धी आवश्यकताओं में वृद्धि होती चली गई। इसके साथ-साथ फसलो को और अधिक मात्रा में पैदा करने के लिए कई प्रकार के खाद का प्रयोग किया जाता है जिससे कम जमीनों में भी अधिक मात्रा में फसलों को पैदा किया जा सके।

फ़सल की परिभाषा (Definition of crop in Hindi) – “मनुष्य अपने लाभ के लिये जिन पौधों को किसी क्षेत्र में एक निश्चित कार्यक्रम एवं योजना के अनुसार उगाता है उन्हें फ़सल (crop in Hindi) कहा जाता है। ”

जैसा की अभी तक आपने जाना कि फसल किसे कहते है तथा फसल की परिभाषा क्या होती है अब हम फसल के प्रकार के बारे में जानेंगे। साथ  ही साथ उसकी परिभाषाओ को जानेगे तो आइए जानते है फसलों के प्रकार के बारे में:-

फसल के प्रकार (Fasal ke prakar) –

मौसमी चक्र के आधार पर फसलों को 3 मुख्य प्रकार में वर्गीकृत किया गया है, निश्चित समयबद्ध कार्यक्रम से हुए फसलों के वर्गीकरण ने उत्पादन पर ध्यान केंद्रित किया, जिससे कृषि व्यापार में भी वृद्धि हुई।

  1. खरीफ की फसल
  2. रबी की फसल
  3. जायद की फसल

खरीफ की फसल

खरीफ की फसल (Kharif crop in Hindi)

ऐसी फ़सल जिसको उगाने में लम्बी समय (अवधि) की आवश्यकता होती है तथा ऐसी फसलो को उगाने के लिए वातावरण का तापमान तथा आर्द्रता वाले मौसम का अनुकूल होना बहुत ही ज़रूरी होता है इस प्रकार की फसलों को खरीब की फ़सल कहते है। इस फसलों की बुवाई जून से जुलाई तक के बीच में की जाती है और ये फसलें सितम्बर से अक्टूबर माह के अंदर पककर कटाई के लिये तैयार हो जाती हैं।

खरीफ की फसलों के नाम-

  1. धान्य फसलें- धान, मक्का, ज्वार, बाजरा
  2. दलहनी फसलें- अरहर, मूंग, उड़द
  3. तिलहनी फसलें- मूंगफली, सोयाबीन
  4. रेशे वाली फसलें- कपास, जूट
  5. चारे वाली फसलें- लोबिया, ग्वार
  6. सब्जी वाली फसलें- लौकी, भिण्डी, करेला, तोरई
  7. स्टार्च फसलें- अरबी, शकरकन्द

रबी की फसल

रबी की फसल (Rabi crop in Hindi)

इस प्रकार की फसलो को कम तापमान पर छोटे दिनों की अवधि तथा कम प्रकाश की ज़रूरत होती हैं। इस प्रकार की फसलों की बुवाई अक्टूबर-नवम्बर में की जाती है और ये फसलें मार्च-अप्रैल माह में पककर तैयार हो जाती है इनकी कटाई के समय तापमान में वृद्धि होती है और तेज गर्म हवाएँ चलती है।

रबी की फसलों के नाम-

  1. धान्य फसलें- गेहूँ, जो, ट्रिटिकेल
  2. दलहनी फसलें- चना, मटर, मसूर
  3. तिलहनी फसलें- तोरिया व सरसों, सूरजमुखी, कुसुम
  4. शर्करा फसलें- गन्ना, चुकन्दर
  5. विशेष फसलें- आलू, तम्बाकू
  6. चारे वाली फसलें- बरसीम, लुसर्न, जई
  7. सब्जी वाली फसलें- गाजर, मूली, शलजम, टमाटर

जायद की फसल

जायद की फसल (Zaid crop in Hindi)

यदि किसी गाँव की सिंचाई जल की पक्की व्यवस्था है तो इन फसलों की बुवाई फरवरी-मार्च में की जा सकती है और ये फसलें अप्रैल-मई में पककर कटाई के लिये तैयार हो जाती हैं। इस दौरान भीष्ण गर्मी, तेज गर्म, हवाएँ तथा लू चलती हैं। इन प्रतिकूल परिस्थितियों को सहन करके उगाने की क्षमता इन फसलों में पाई जाती हैं।

जायद की फसलों के नाम- इस वर्ग में ककड़ी, खरबूजा, खीरा, तरबूज, टिण्डा तथा तोरई आदि आते हैं।


लेख के बारे में – इस आर्टिकल में आपने पढ़ा कि, फसल किसे कहते हैं और साथ ही आपने फसलों के प्रकार जैसे- (खरीफ की फ़सल, रबी की फ़सल, जायद की फ़सल) आदि के बारे में पढ़ा | फसल किसे कहते हैं?

हमें उम्मीद है कि, इस लेख में दी गयी जानकारी आपके लिए आवश्य लाभदायी रही होगी, इस बीच अगर लेख में कही कुछ गलत या स्पेल्लिंग मिस्टेक हो गया हो तो हमें कमेंट के माध्यम से जरुर बताये, आपके इस काम the eNotes की टीम आपकी आभारी रहेगी | इस आर्टिकल पर आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो!

Leave a Comment