हिन्दी वर्णमाला स्वर और व्यंजन | Hindi Varnmala

प्रिय पाठक! स्वागत है आपका the eNotes के एक नए आर्टिकल में, इस आर्टिकल में हम हिन्दी वर्णमाला स्वर और व्यंजन पढेंगे। इसके अगले आर्टिकल में हम वर्ण विचार और शब्द विचार पढेंगे। तो चलिए विस्तार से जानते हैं हिन्दी वर्णमाला स्वर और व्यंजन के बारे में-

हिन्दी वर्णमाला-Hindi Varnmala

हिन्दी कोई सब्जेक्ट नहीं बल्कि एक भाषा है। यह दुनिया में सबसे ज़्यादा बोले जाने वाली भाषा है। यह भारत की राजभाषा है। इसे देवनागरी लिपि में लिखा जाता है। देवनागरी लिपि (हिन्दी वर्णमाला) में 11 स्वर 33 व्यंजन और 8 (अन्य) अनुस्वार, अनुनासिक एवं विसर्ग होता है, जिन्हें मिला कर कुल 52 वर्ण होते हैं।

हिन्दी वर्णमाला स्वर और व्यंजन

हिन्दी वर्णमाला स्वर और व्यंजन

वर्णों के व्यवस्थित समूह को वर्णमाला कहते हैं, हिन्दी वर्णमाला में 52 वर्ण होते हैं। जिन्हें दो भागो (स्वर और व्यंजन) में बाटा गया है। हिन्दी भाषा की सबसे छोटी ध्वनि इकाई को ‘वर्ण’ कहा जाता है। इसे अक्षर भी बोला जाता है और वर्णों के व्यवस्थित समूह को वर्णमाला कहा जाता है।

हिन्दी वर्णमाला में कितने वर्ण हैं?

हिन्दी वर्णमाला में 52 वर्ण होते हैं, जिनमे 11 स्वर 33 व्यंजन और 8 (अन्य) अनुस्वार, अनुनासिक एवं विसर्ग होते है।

हिन्दी वर्णमाला के कितने भाग होते हैं?

वर्णमाला के दो भाग होते हैं-

  • स्वर
  • व्यंजन

स्वर किसे कहते हैं?

जिन वर्णों का उच्चारण स्वतंत्र रूप से होता है, अर्थात जिन वर्णों को हम बिना किसी दुसरे वर्णों की सहायता के बोल सकते है, उन्हें स्वर कहते हैं। हिन्दी वर्णमाला में 11 स्वर होते हैं।

अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ऋ, ए, ऐ, ओ, औ

इनके अलावां इन वर्णाक्षर भी स्वर माने जाते हैं

अं—पंचम वर्ण-ङ्, ञ्, ण्, न्, म् का नासिकीकरण करने के लिए (अनुस्वार)

अः—अघोष “ह्” (निःश्वास) के लिए (विसर्ग)

व्यंजन किसे कहते हैं?

जिन वर्णों का उच्चारण बिना किसी दुसरे वर्णों के नहीं हो सकता उन्हें व्यंजन कहते हैं। हिन्दी वर्णमाला में 33 व्यंजन होते हैं।

क् ख् ग् घ् ड़्

च् छ् ज् झ् ञ्

ट् ठ् ड् ढ् ण्

त् थ् द् ध् न्

प् फ् ब् भ् म्

य् र् ल् व्

श् ष् स् ह्

क्ष त्र ज्ञ श्र

इसके अलावां दो द्विगुण व्यंजन (ड़ ढ़) होते हैं।


Conclusion-

इस आर्टिकल में आपने हिन्दी वर्णमाला स्वर और व्यंजन के बारे में पढ़ा, हमें उम्मीद है कि आपको हिन्दी वर्णमाला स्वर और व्यंजन आवश्य समझ आया होगा। अगर समझने में कोई समस्या आ रही हो तो आप विडियो देख सकते हैं।

the eNotes रिसर्च के बाद जानकारी उपलब्ध कराता है, इस बीच पोस्ट पब्लिश करने में अगर कोई पॉइंट छुट गया हो, स्पेल्लिंग मिस्टेक हो, या फिर आप-आप कोई अन्य प्रश्न का उत्तर ढूढ़ रहें है तो उसे कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएँ अथवा हमें [email protected] पर मेल करें। हिन्दी व्याकरण से जुड़े अन्य आर्टिकल पढने के लिए the eNotes को टेलीग्राम पर फॉलो करें।

Leave a Comment