बन्दर मामा पहन पजामा – Bandar Mama Pahan Pajama

बन्दर मामा पहन पजामा

बन्दर मामा पहन पजामा एक नर्सरी कविता है, जो प्री-प्राइमरी कक्षा के विद्यार्थियों को पढाया जाता है, यह केवल मनोरंजन और मनोरंजन के उद्देश्य से है |इससे पहले इस ब्लॉग पर कुछ पोस्ट पब्लिश हो चुके हैं जो निम्नलिखित हैं –


इन्हें भी पढ़ें


Bandar Mama Pahan Pajama

बंदर मामा पहन पजामा दावत खाने आयें..2
ढीला कुर्ता, टोपी जूता पहन बहुत इतराए,
ढीला कुर्ता, टोपी जूता पहन बहुत इतराए…

रसगुल्ले पर जी ललचाया मुंह में रखा गप से,
रसगुल्ले पर जी ललचाया मुंह में रखा गप से…
नरम-नरम था गरम-गरम था, जीभ जल गई लप से…
नरम-नरम था गरम-गरम था,
जीभ जल गई लप से…

बंदर मामा रोते-रोते वापस घर को आए,
बंदर मामा रोते-रोते वापस घर को आए…
फेंकी टोपी, फेंका जूता, रोए और पछताए…
फेंकी टोपी, फेंका जूता, रोए और पछताए…

Bandar mama pahan pajama Rhymes in Hindi

Bandar mama pahan pajama davat khane aye..2
Dheela kurta, topee joota pahan bahut itarae,
Dheela kurta, topee joota pahan bahut itarae…

Rasagulle par jee lalachaaya munh mein rakha gap se,
Rasagulle par jee lalachaaya munh mein rakha gap se…
Naram-naram tha garam-garam tha,
Jeebh Jal gayi lapse…
Naram-naram tha garam-garam tha,
Jeebh jal gaee lap se…

Bandar maama rote-rote vaapas ghar ko aae,
Bandar maama rote-rote vaapas ghar ko aae…
Phenkee topee, phenka joota, Roe aur pachhatae…
Phenkee topee, phenka joota, Roe aur pachhatae…

Other Tags from web :
Bandar mama pahan pajama
Bandar Mama Pahan Pajam

नर्सरी की Rhymes Bandar mama pahan pajama “बन्दर मामा पहन पजामा” पढने के लिए धन्यवाद, अगर आपको यह कविता पसंद आई हो तो इसे शेयर करें तथा अपने बच्चो को भी पढ़ायें |

Leave a Comment