Sangya Ke Kitne Bhed Hote Hain – संज्ञा के कितने भेद होते हैं

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका the eNotes के एक नयें आर्टिकल में, इस आर्टिकल में हम संज्ञा के कितने भेद होते हैं (Sangya Ke Kitne Bhed Hote Hain) पढेंगे, इससे पहले हम संज्ञा के बारे में पढ़ चुके हैं कि संज्ञा किसे कहते हैं? तो चलिए विस्तार से जानते हैं कि संज्ञा के कितने भेद होते हैं।

Sangya Ke Kitne Bhed Hote Hain

जैसा की आप सभी जानते हैं कि संसार की सभी रचनायें जैसे-प्राणी, गुण, धर्म, वस्तु, स्थान आदि, उनका कुछ-न-कुछ नाम दिया गया है, उन्ही नामों से इनकी पहचान होती है और हिन्दी व्याकरण में इन्हीं नामों को संज्ञा कहते हैं। संज्ञा के भेद की बात करें तो हिन्दी व्याकरण में संज्ञा के 5 भेद होते हैं।

संज्ञा के कितने भेद होते हैं? (Sangya Ke Kitne Bhed Hote Hain)

हिन्दी व्याकरण में संज्ञा के 5 भेद होते हैं,

  1. व्यक्तिवाचक संज्ञा (Proper Noun)
  2. जातिवाचक संज्ञा (Common Noun)
  3. भाववाचक संज्ञा (Abstract Noun)
  4. समूहवाचक संज्ञा (Collective Noun)
  5. पदार्थवाचक संज्ञा (Material Noun)

व्यक्तिवाचक संज्ञा (Proper Noun)

जिस शब्द से किसी विशेष व्यक्ति, स्थान अथवा वस्तु का बोध हो, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं। अर्थात किसी व्यक्ति, स्थान या वस्तु का बोध कराने वाली संज्ञा व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाती है। जैसे-

विशेष व्यक्ति- मोहन, सोहन, सीता, राम, मनमोहन सिंह, नरेन्द्र मोदी, ए. पी, जे, अब्दुल कलाम
विशेष स्थान- मुंबई, दिल्ली, जयपुर, बर्लिन, टोकियो, लखनऊ, पटना, गोरखपुर, देवरिया
विशेष पुस्तकों के नाम- रीच डैड पुअर डैड, रामायण, महाभारत, बाइबिल, कुरान, गुरु ग्रन्थ साहब
नदियों के नाम- गंगा, यमुना, ब्रह्मपुत्र, गोदावरी नदी, कृष्णा नदी, मेघना नदी
झीलों के नाम- चिल्का झील,  वेम्बनाड झील, सुखना झील,
सागरो के नाम- दक्षिणी चीन सागर, भूमध्य सागर, ओख़ोत्स्क सागर, कॅरीबियाई सागर, अंडमान सागर
पहाणों के नाम- हिमालय, कंचनजंघा, अरावली, विंध्याचल, नीलगिरि
नगरों के नाम- कोलकाता, कानपुर, हैदराबाद, आगरा, जयपुर, , दार्जिलिंग, शिमला, मुंबई, बेंगलुरु, तिरुवनंतपुरम
गावों के नाम- डुमरी, खानपुर, मैरवा, पुरुषोत्तमपुर, श्यामपुर, मुंडेरा
देशों के नाम- भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, चीन, श्रीलंका, इंडोनेशिया, अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, जापान
महीनों के नाम- जनवरी, फरवरी, मार्च, अप्रैल, मई, जून, जुलाई, अगस्त, सितम्बर, अक्टूबर, नवम्बर, दिसम्बर

संज्ञा के कितने भेद होते हैं

जातिवाचक संज्ञा (Common Noun)

संज्ञा के जिन शब्दों से किसी जाती का बोध होता है, उसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं। जातिवाचक संज्ञा में एक कॉमन वर्ड होता है, जिससे उसके जाती के बारे में पता चलता है। जैसे-ईमारत, शहर, पुरुष, विद्यार्थी, नदी, पर्वत, लड़की आदि

ईमारत एक जातिवाचक संज्ञा शब्द है, इसमें हम किसी भी बिल्डिंग का नाम लिख सकते हैं, इससे यह पता चलता है कि ईमारत के जातिवाचक संज्ञा शब्द है।   ठीक इसी प्रकार शहर भी एक जातिवाचक शब्द है, इसके अंतर्गत किसी भी शहर का नाम लिया जा सकता है।

भाववाचक संज्ञा (Abstract Noun)

भाव वाचक संज्ञा में नाम से ही पता चल रहा है कि भाव व्यक्त करने वाले संज्ञा शब्द भाववाचक संज्ञा कहलाते हैं अर्थात जिन संज्ञा शब्दों से किसी प्राणी अथवा पदार्थ के गुण-दोष, या भाव का बोध हो उसे भाववाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे-बचपन, ईमानदार, हंसी, मोटापा, सुन्दरता, क्रोध, मिठास आदि

भाववाचक संज्ञाओं का निर्माण जातिवाचक संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया तथा अव्यय में आव, त्व, पन, अन, इमा, ई, ता, -हट आदि प्रत्यय जोड़कर किया जाता है।

समूहवाचक संज्ञा (Collective Noun)

जिन शब्दों से प्राणियों अथवा वस्तुओं के समूहों का बोध हो, उन्हें समूहवाचक संज्ञा कहते हैं अर्थात जो संज्ञा शब्द किसी एक व्यक्ति का वाचक न होकर समूह / समुदाय के वाचक हैं। समूहवाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे-वर्ग, टीम, सभा, समिति, आयोग, परिवार, पुलिस, सेना, अधिकारी, कर्मचारी, ताश, टी-सेट, आर्केस्ट्रा आदि।

पदार्थवाचक संज्ञा (Material Noun)

जिस संज्ञा शब्द से किसी समग्री या पदार्थ का बोध होता है उसे परार्थवाचक / द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं। अर्थात जिन शब्दों से किसी धातु या पदार्थ का बोध हो, उन्हें पदार्थवाचक शब्द कहते हैं। जैसे-सोना, चांदी, लोहा, मिटटी, धुँआ, ऑक्सिजन, तेल, पानी घी, तम्बा लोहा, दही, लोहा, उन आदि।

विडियो में जाने संज्ञा के कितने भेद होते हैं


Conclusion:

इस आर्टिकल में आपने (संज्ञा के कितने भेद होते हैं) Sangya Ke Kitne Bhed Hote Hain पढ़ा। हमें उम्मीद है कि आपको यह जानकारी आवश्य समझ आई होगी संज्ञा के कितने भेद होते हैं, इस लेख के बारे में अपने विचार आवश्य कमेंट करें। इसी तरह के और आर्टिकल पढ़ते रहने के लिए the eNotes के WhatsApp ब्रॉडकास्ट को सब्सक्राइब कीजिये।

Disclaimer

the eNotes रिसर्च के बाद जानकारी उपलब्ध कराता है, इस बीच पोस्ट पब्लिश करने में अगर कोई पॉइंट छुट गया हो, स्पेल्लिंग मिस्टेक हो, या फिर आप-आप कोई अन्य प्रश्न का उत्तर ढूढ़ रहें है तो उसे कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएँ अथवा हमें theenotes. [email protected] com पर मेल करें और अन्य लोगों का पढने के लिए the eNotes को टेलीग्राम पर फॉलो करें अथवा नीचे दिए गये सोशल मीडिया पर जुड़े।


Follow us on –

Whatsapp – https://wa.link/k3chge
FB Group – https://www.facebook.com/groups/1286996975046091/
FB Page – https://www.facebook.com/theeNotesOfficial
Youtube – https://www.youtube.com/channel/UCyiAHargB9UZz4tTzAAyeNA
Instagram – https://www.instagram.com/theenotes/
Share Chat – https://sharechat.com/profile/theenotes

Leave a Comment