Sanskrit me Phoolon ke Naam – 30+ फूलों के नाम संस्कृत में

प्रिय पाठक स्वागत है आपका the eNotes के एक नये आर्टिकल में, इस आर्टिकल में हम फूलों के नाम संस्कृत में (Sanskrit me Phoolon ke Naam) सीखेंगे, इससे पहले हमने महीनों के नाम संस्कृत में सिखा था।

Sanskrit me Phoolon ke Naam – संस्कृत में फूलों के नाम

फूल किसे पसंद नहीं हैं, खुशबूदार और चटकीले होने के कारण यह सबको अपनी तरफ़ आकर्षित करते हैं, इनका महत्त्व भी सर्वोपरी है, प्रायः इनका प्रयोग शादी-विवाह और पूजा-पाठ जैसे शुभ कामो में होता है। फूलों से प्रेरित होकर माखनलाल चतुर्वेदी ने एक कविता ‘पुष्प की अभिलाषा‘ लिखी थी।

आपने फूलों के नाम हिन्दी और अंग्रेज़ी में तो ज़रूर पढ़ा होगा लेकिन क्या आप फूलों के नाम संस्कृत में जानते हैं, अगर नहीं तो इस आर्टिकल में हम Sanskrit me Phoolon ke Naam पढेंगे। आगे बढ़ने से पहले आपको बता दें कि फूल को अंग्रेज़ी में Flower और संकृत में पुष्पः कहते हैं।

Sanskrit me Phoolon ke Naam

30+ फूलों के नाम संस्कृत में

Flower फूल पुष्प:
Blue Water Lily नीलकमल कृष्ण कमलम
Cobra Saffron धतूरा धतूर
Delonix Regia गुलमोहर आभरण
Erythrina पारिजात शेफालिका
Golden Shower अमलतास व्याधिघात
Hibicucus गुढ़ल जपपुशम
Jasmine चमेली जातीपुष्पम्
Jasmine जुहि यूथिका
Jasmine बेला मल्लिका
Jasminum Sambac मोगरा मल्लिका
Lily कुमुद पद्मिनी
Lotus कमल उत्पलम्
Magnolia चम्पा चम्पकम्
Marigold गेंदे का फूल स्‍थलपद्मम्
Mesua Ferrea नाग केसर नागपुष्प
Naag-Pushp नाग चम्पा नागापुश्पा
Night Blooming Jasmine रात रानी रजनीगन्‍धा
Oleander कनेर कर्णोरः
Palash पलाश किंशुक
Rose गुलाब पाटलम्
Screw केतकी कैतकम्
Sunflower सूरजमुखी दिवाकरः
Narcissus नर्गिस नरगिस पुष्पं

Conclusion- इस आर्टिकल में अपने Sanskrit me Phoolon ke Naam संस्कृत में फूलों के नाम पढ़ा, हमे उम्मीद है कि आपको यह जानकारी आवश्य समझ आयी होगी। और यदि आप किसी अन्य फूल का संस्कृत में नाम चाहते हैं तो कमेंट कर आवश्य पूछे, इसका जवाब आपको आवश्य दिया जायेगा। अधिक जानकारी के लिए विडियो देखें।

बहुत लम्बी रिसर्च के बाद the eNotes जानकारी उपलब्ध कराता है, इस बीच अगर कोई पॉइंट छुट गया हो, स्पेल्लिंग मिस्टेक हो, या फिर आप किसी अन्य प्रश्न का उत्तर ढूढ़ रहें है तो उसे कमेंट बॉक्स में अवश्य पूछें या फिर हमें [email protected] पर मेल करें। हिन्दी व्याकरण से जुड़े अन्य आर्टिकल पढने के लिए हमे टेलीग्राम पर फॉलो करें।

Leave a Comment