15.8 C
Gorakhpur
मंगलवार, दिसम्बर 1, 2020

What is CPU in Hindi? CPU क्या है? इसके मुख्य भाग कौन- कौन से हैं?

- Advertisement -

What is CPU in Hindi

CPU का पूरा नाम सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट होता है. यह समस्त कंप्यूटर को नियंत्रित करने का काम करता हैं. सी.पी.यू. को कंप्यूटर का दिमाग़ भी कहते हैं. यह कंप्यूटर का एक मुख्य भाग है, जिसका काम कंप्यूटर में आने वाले इनपुट (Input) निर्देशों को प्रोसेस (Process) करना है. कंप्यूटर का सारा डाटा CPU में ही संग्रह किया जाता है. तो आज के इस आर्टिकल में हम What is CPU in Hindi में जानेंगे.

सी.पी.यू. क्या है, और इसका पूरा नाम क्या है?

इसके अंदर एक CHIP लगा रहता है जिसे हम प्रोसेसर (Processor) कहते हैं. प्रोसेसर कंप्यूटर के सभी पुर्जों (Components) को नियंत्रित (Control) करता है. हम यह भी कह सकते हैं कि CPU के बिना कंप्यूटर किसी काम का नहीं है.

What is CPU in Hindi

CPU के तीन मुख्य भाग-

ए.एल.यू. (A.L.U.) –

A.L.U. का पूरा नाम अर्थमेटिक एवं लॉजिक यूनिट है. ALU का कार्य कंप्यूटर में तार्किक गणना या अंक गणितीय गणना (जोड़ना. घटाना. गुणा. भाग इत्यादि) करना होता हैं. ALU ही कंप्यूटर के सभी गणितीय और लॉजिकल कार्य को पूरा करता है.

सी. यू. (C.U.) –

कंट्रोल यूनिट (Control Unit) यह समस्त कंप्यूटर को कण्ट्रोल करने का काम करता है.

एम.यू. (M.U) –

मेमोरी यूनिट (Memory Unit) सी.पी.यू. का यह भाग डाटा को स्टोर करने का काम करता है. इसे कंप्यूटर का स्टोर हाउस कहते हैं. मेमोरी यूनिट के दो भाग होते हैं. (इंटरनल और एक्सटर्नल मेमोरी)

इंटरनल मेमोरी-

कंप्यूटर के आन्तरिक मेमोरी को प्राथमिक या मुख्य मेमोरी भी कहा जाता है. यह मेमोरी सिमित होता हैं.

इंटरनल मेमोरी भी दो प्रकार की होती हैं. (Ram और Rom)

RAM (रैम) –

रैम का पूरा नाम रैंडम एक्सेस मेमोरी (Random Access Memory) होता है. रैम में डाटा अस्थायी रूप से संगृहीत रहती है. कंप्यूटर के बन्द हो जाने पर इसमें स्टोर डाटा मिट जाता है.

ROM (रोम) –

रोम का पूरा नाम रीड ओनली मेमोरी (Read only Memory) होता है. यह स्थायी मेमोरी होता है. कंप्यूटर के निर्माण के समय ही इसमें डाटा स्टोर कर दिया जाता है. इसे परिवर्तित या नष्ट नहीं किया जा सकता हैं.

एक्सटर्नल मेमोरी-

कंप्यूटर की आन्तरिक मेमोरी सिमित कम होने के कारण आतंरिक मेमोरी जल्दी भर जाती है. इस लिए बाह्य स्टोरेज डिवाइसो की मदद ली जाती है. जो कंप्यूटर से बहार से जोड़ा जा सकता है. इसे हम एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा सकता है. इसे द्वितीयक या बाह्य डिवाइस भी कहा जाता है.

कुछ बाह्य संग्रहण डिवाइसो के उदाहरण-

फ्लापी डिस्क-

यह कंप्यूटर के डाटा को स्टोर करने के काम आता है. इसकी स्टोरेज क्षमता बहुत कम होती है. जो करीब 1.44 MB तक होती है. वर्त्तमान में फ्लापी डिस्क का प्रयोग नहीं के बराबर होता हैं.

हार्ड डिस्क-

यह प्रायः सभी कंप्यूटर में पाया जाता है. यह एक चुम्बकीय डिस्क होती है. इसकी स्टोरेज क्षमता 10 GB से अधिक होती है.

कॉम्पेक्ट डिस्क (C.D.) –

CD को ही कॉम्पेक्ट डिस्क कहा जाता है. इसकी स्टोरेज क्षमता सामान्यतः 650 से 700 MB तक होती है.

डिजिटल विडियो डिस्क (DVD) –

DVD को डिजटल विडियो डिस्क (Digital Video Disk) कहा जाता है. इसकी स्टोरेज क्षमता 17 GB तक हो सकती है.

इस आर्टिकल में हमने What is CPU in Hindi को जाना है, कंप्यूटर से जुडी और भी आर्टिकल पढने के लिए हमे 9151210531 पर Whatsapp करें | 

Related news

Multiplication table of 10 | Ten one ja ten – 10 का पहाड़ा

अगर आपके घर कोई नर्सरी क्लास में है तो आप उन्हें यहाँ से टेबल (पहाड़ा) याद करा सकते हैं, इस आर्टिकल में Multiplication table...

Multiplication table of 9 | Nine one ja nine | 9का पहाड़ा

अगर आपके घर कोई नर्सरी क्लास में है तो आप उन्हें यहाँ से टेबल (पहाड़ा) याद करा सकते हैं, इस आर्टिकल में Multiplication table...

Multiplication table of 8 | Eight one ja Eight | 8 का पहाड़ा

अगर आपके घर कोई नर्सरी क्लास में है तो आप उन्हें यहाँ से टेबल (पहाड़ा) याद करा सकते हैं, इस आर्टिकल में Multiplication table...

Multiplication table of 7 | Seven one ja Seven – 7 का पहाड़ा

अगर आपके घर कोई नर्सरी क्लास में है तो आप उन्हें यहाँ से टेबल (पहाड़ा) याद करा सकते हैं, इस आर्टिकल में Multiplication table...

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here